STUDY METERIAL GEOGRAPHY IND 03

(अध्ययन सामग्री): भूगोल -भारत का भूगोल “इकाई – I रू भारत का भूआकृतिक वर्गीकरण”


अध्ययन सामग्री: भारत का भूगोल


इकाई – I रू भारत का भूआकृतिक वर्गीकरण

(Physiographic Division of India)

भारत की भू-आकृतिक (Relief) विशेषताओं में अत्यधिक विविधता पाई जाती है । इसकी संरचना अत्यन्त जटिल है । यहीं सभी कल्प और काल की संरचना में पायी जाती हैं । यहाँ एक ओर उत्तर में नवीन गगनचुम्बी पवर्तमालाएँ हैं, तो दूसरी ओर दक्षिण में अतिप्राचीन कठोर चट्टानों वाले पठार इन नवीन पर्वत एवं प्राचीन पठार के मध्य ‘विशाल समतल मैदान’ है, जो इसकी धरातलीय विशेषताओं में एक नया आयाम जोड़ देता है ।
 भारत के कुल क्षेत्रफल का 10.7 प्रतिशत भाग पर्वतीय, 18.6 प्रतिशत भाग पहाड़ी, 27.7 प्रतिशत भाग पठारी तथा शेष 43 प्रतिशत भाग मैदानी है । संक्षेप में स्थलाकृतिक विशेषताओं की दृष्टि से हम भारत को चार प्रमुख प्रदेशों में बाँट सकते हैं ।

1. उत्तर का पर्वतीय क्षेत्र ।
2. प्रायद्वीपीय पठारी क्षेत्र ।
3. उत्तर का वृहत मैदान ।
4. तटीय मैदान और द्वीप-समूह

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *