भूलाभाई देसाई

भूलाभाई देसाई भारत के प्रख्यात विधिवेत्ता, प्रमुख संसदीय नेता तथा महात्मा गांधी के विश्वस्त सहयोगी। आजाद हिंद फौज के सेनापति श्री शहनवाज, ढिल्लन तथा सहगल पर राजद्रोह के मुकदमें में सैनिकों का पक्षसमर्थन आपने जिस कुशलता तथा योग्यता से किया, उससे आपकी कीर्ति देश में ही नहीं, विदेश में भी फैल गई। परिचय भूलाभाई देसाई का जन्म सूरत जिले के बलसर में हुआ था। विधिविशेषज्ञता […]

भीमा नायक

भीमा नायक ने 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में अंग्रेज़ों के विरुद्ध संघर्ष किया था। अंग्रेज सरकार द्वारा उनके खिलाफ दोष सिद्ध होने पर उन्हें पोर्ट ब्लेयर व निकोबार में रखा गया था। भीमा नायक की मृत्यु 29 दिसंबर 1876 को पोर्ट ब्लेयर में हुई थी।[1] चित्रों का रहस्य भीमा नायक के वास्तविक फोटो को लेकर भी अब तक कोई […]

भीखाजी कामा

भीखाजी कामाBhikhaji Cama जन्म 24 सितंबर 1861बॉम्बे, ब्रिटिश भारत मृत्यु 13 अगस्त 1936 (आयु 74)बॉम्बे, ब्रिटिश भारत श्रीमती भीखाजी जी रूस्तम कामा (मैडम कामा) ( ( सुनें) हिन्दुस्तानी उच्चारण: [ˈbʱiː.kʰɑː.jiː ˈkɑː.mɑː]) (24 सितंबर 1861-13 अगस्त 1936) भारतीय मूल की पारसी नागरिक थीं जिन्होने लन्दन, जर्मनी तथा अमेरिका का भ्रमण कर भारत की स्वतंत्रता के पक्ष में माहौल बनाया। वे जर्मनी के स्टटगार्ट नगर में 22 अगस्त 1907 में हुई सातवीं अंतर्राष्ट्रीय कांग्रेस […]

भागवत भगत

भागवत भगत नमक सत्याग्रह के अग्रदूत थे। महात्मा गांधी की सभा तब शुरू होती थी जब भागवत भगत अपनी खजड़ी बजाकर लोगों को अपना गीत सुनाते थे। भागवत भगत ने स्वतंत्रता आन्दोलन के दौरान गांवों में खजड़ी बजाकर लोगों को जागरूक किया। उत्तर प्रदेश के देवरिया जिले के भाटपाररानी के पास छठियांव के गरीब किसान के घर पैदा हुये भागवत भगत ने वह कार्य कर दिखाया […]

भाई प्रताप दयालदास

भाई प्रताप दयालदास एक भारतीय उद्यमी, और स्वतंत्रता सेनानी थे। वे आदिपुर शहर के संस्थापक थे। स्वतंत्रता संघर्ष के दिनों के बाद से भाई प्रताप सिंह का पंडित जवाहरलाल नेहरू, महात्मा गांधी और सरदार पटेल जैसे बड़े हस्तियों के साथ करीबी संबंध थे।[1] [2] इनका जन्म हैदराबाद, सिंध में 14 अप्रैल 1908 को हुआ था। भाई प्रताप अपनी समृद्धि के लिए जाने जाते थे और एक रईस परिवार से थे। […]

भगवान दास

जन्म तारीख: जनवरी १२, १८६९ म्रुत्यु तारीख: सितेम्बर १८, १९५८ दार्शनिक उपलब्धिया: भारत रत्न से सम्मनित भारतरत्न डाक्टर भगवानदास (१२ जनवरी १८६९ – १८ सितम्बर १९५८) भारत के प्रमुख शिक्षाशास्त्री, स्वतंत्रतासंग्रामसेनानी, दार्शनिक (थियोसोफी) एवं कई संस्थाओं के संस्थापक थे। सन्‌ १९५५ में उन्हें भारतरत्न की सर्वोच्च उपाधि से विभूषित किया गया था। उन्होने डॉक्टर एनी बेसेन्ट के साथ व्यवसायी सहयोग किया, जो बाद मे सेन्ट्रल […]

बेहरामजी मलाबारी

बेहरामजी मेरवानजी मालाबारी (1853–1912) भारत के कवि, प्रकशक, लेखक तथा समाज सुधारक थे। वे स्त्रियों के अधिकारों की रक्षा के प्रबल पक्षधर थे। परिचय बेहराम जी ने स्त्री समाज को मुक्ति दिलाना अपने जीवन का सिद्धांत बना लिया था। भारतीयता के प्रति होते हुए अन्याय या अधर्म के विरुद्ध दादाभाई नौरोजी की लड़ाई में वह उनके दाहिने हाथ सदृश थे। वह दिनशॉ वाचा के पत्रकार-जीवन और सार्वजनिक जीवन के […]

बिनोय बसु

बिनोय कृष्ण बासुবিনয় কৃষ্ণ বসু जन्म 11 सितम्बर 1908Rohitbhog , Bikrampur, Bengal Presidency, British India(now in Bangladesh) मृत्यु 13 दिसम्बर 1930 (उम्र 22)Calcutta, Bengal Presidency, British India(now in India) राष्ट्रीयता Indian अन्य नाम Benoy Basu, Benoy Bose शिक्षा प्राप्त की Mitford Medical School (now Sir Salimullah Medical College) प्रसिद्धि कारण Writers’ Building attack बिनोय कृष्ण बासु (Bengali: বিনয় কৃষ্ণ বসু Binôe Boshu)(१९०८ -१९३० ) ब्रिटिश ससन के विरुद्ध एक […]

बाळकृष्ण शिवराम मुंजे

डॉ बालकृष्ण शिवराम मुंजे (१२ दिसम्बर १८७२ – ३ मार्च १९४८) भारत के एक प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी तथा हिन्दू महासभा के सदस्य थे। वे सन १९२७-२८ में अखिल भारत हिन्दू महासभा के अध्यक्ष रहे। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ को बनवाने में इनका बहुत योगदान था। संघ के संस्थापक केशव बलिराम हेडगेवार के वे राजनितिक गुरु थे। डॉ॰ मुंजे भारत में सैनिक-शिक्षा के पुरोधा थे। जीवन परिचय डॉ […]

बाबू गुलाब सिंह

अमर शहीद क्रांतिकारी बाबू गुलाब सिंह एक भारतीय स्वतंत्रता सेनानी थे, जिनका जन्म उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद जनपद के तरौल (तारागढ़) गाँव में हुआ था। पेशे से वें तालुकेदार थे।अवध क्षेत्र प्रतापगढ़ और प्रयाग में सन १८५७ की भारतीय स्वतंत्रता संग्राम में इनकी भूमिका अहम् रही।[1][2] अनुक्रम 1जीवन परिचय 2१८५७ की क्रांति में योगदान 3ग्राम स्थापना 4इसे भी देखें 5सन्दर्भ 6बाहरी कड़ियाँ जीवन परिचय प्रतापगढ़ (उत्तर प्रदेश) विकास खंड मानधाता […]