भारत में सब्जियों की खेती

यह एक ऐसा खाद्य है, जिसका उपयोग व्यापार और निर्यात के अतिरिक्त घरेलू व्यवहार में किया जाता है। वर्तमान में अंतरराष्ट्रीय व्यापार में इसकी भागीदारी बढ़ी है।

ट्यूबर (गूदेदार भूमिगत तना) फसलें उष्णकटिबंधीय (कसावा और यार्न या सूत) या उपोष्णकटिबंधीय (शकरकंद) और शीतोष्ण (आलू) क्षेत्रों में पायी जाती है।

जड़ वाली फसलों, यथा- गाजर, चुकंदर और शलजम का उत्पादन मुख्य रूप से ठंडे शीतोष्ण तापमान में होता है।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *