बल

Force बल वह बाह्य कारक है, जो किसी वस्तु की विरामावस्था या सरल रेखा में एकसमान गति की अवस्था को परिवर्तित कर सकता है। उदाहरण के लिए, खेल मैदान में स्थिर रखी हुई फुटबाल को पैर से किक लगाकर (अर्थात्, बल लगाकर) गतिशील बनाया जा सकता है, दूर से तेजी से आती हुई फुटबाल को […]

कार्य, शक्ति तथा उर्जा

Work, Power and Energy कार्य: विज्ञान में हम उन सब कारणों को कार्य कहते हैं, जिनमें किसी वस्तु पर बल लगाने से वस्तु की स्थिति में परिवर्तन हो जाता है। किसी वस्तु पर जितना अधिक बल लगाया जाता है तथा जितना अधिक वस्तु की स्थिति में विस्थापन होता है, कार्य उतना ही अधिक होता है। अत: […]

दाब

Pressure दाब = बल/क्षेत्रफल अतः दाब का SI मात्रक है : न्यूटन/मीटर2 जिसे, पास्कल कहते हैं। दाब एक अदिश राशि है। द्रवों में दाब द्रव के अंदर किसी बिंदु पर द्रव के कारण दाब द्रव की सतह से उस बिंदु की गहराई द्रव के घनत्व तथा गुरुत्वीय त्वरण के गुणनफल के बराबर होता है। दाब = […]

विज्ञान से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य

Vital Facts about Science संवेग परिवर्तन की दर बल के बराबर होती है। यदि कोई बड़ा बल थोड़े समय के लिए कार्य करे, तो बल और समय के गुणनफल को आवेग कहते हैं। घूर्णन गति में द्रव्यमान की अनुरूपता जड़त्व आघूर्ण द्वारा होती है। हाइड्रोमीटर से आपेक्षिक घनत्व की माप की जाती है। सुई पानी […]

ध्वनि

ध्वनि से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य Sound-Related Important Facts ध्वनि की तरंगे अनुदैर्ध्य होती हैं। ध्वनि तरंगे ध्रुवित नहीं हो सकती हैं। डेसीबल ध्वनि की तीव्रता को मापने का यंत्र है। पानी के अन्दर ध्वनि की तीव्रता हाइड्रोजन से ज्ञात की जाती है। घण्टे धातुओं के बनाए जाते हैं क्योंकि धातुओं में प्रत्यास्थता का गुण होता […]

ऊष्मा

ऊष्मा एक प्रकार की ऊर्जा है, जिसे कार्य में बदला जा सकता है। इसका सबसे पहले उदाहरण रमफोर्ड ने दिया, बाद में डेवी ने दो बर्फ के टुकड़ों को आपस में घिसकर पिघला दिया। चूंकि बर्फ को पिघलने के लिये ऊष्मा का और कोई स्रोत न था, अत: यह माना गया कि बर्फ को घिसने […]

प्रकाश

प्रकाश ऊर्जा का वह रूप है, जो हमें वस्तुओं को देखने में मदद करता है। प्रकाश के बिना पेड़-पौधे जीवित नहीं रह सकते और पेड़-पौधों के बिना पृथ्वी पर जीवन असंभव है। प्रकाश एक प्रकार की विकिरण ऊर्जा है, जो अन्य ऊर्जाओं की तरह नजर नहीं आती। अत: हम केवल उन वस्तुओं को ही देख […]

विद्युत एवं विद्युत् चुम्बकीय विकिरण

Electricity and Electromagnetic Radiation विद्युत प्रत्येक पदार्थ परमाणुओं से बना है। परमाणु के भीतर धनावेशित मूल कण प्रोटॉन, ऋणावेशित मूल कण इलेक्ट्रॉन तथा आवेशरहित मूल कण न्यूट्रॉन होते हैं, किसी भी वस्तु में प्रोटॉनों तथा इलेक्ट्रॉनों की संख्या बराबर होती है। यदि किसी वस्तु से कुछ इलेक्ट्रॉन बाहर निकाल दिये जाते हैं तो वस्तु में […]

विद्युत सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य

विद्युत सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य Vital Facts About Electricity आवेश की मात्रा का मात्रक कूलॉम है। मात्रक एम्पियर सेकेण्ड, कूलॉम के तुल्य होता है। विद्युत धारा के चुम्बकीय प्रभाव की खोज ओरस्टेड ने की थी। वैस्टन अमीटर से केवल डी.सी. विद्युत धारा ही नापी जाती है। अमीटर का प्रतिरोध बहुत कम तथा वोल्टामीटर का प्रतिरोध बहुत […]

स्थिर एवं विद्युत् चुम्बक

चुम्बक के गुण चुम्बक एवं चुम्बकत्व प्राकृतिक एवं कृत्रिम चुम्बक: प्राकृतिक चुम्बक, प्रकृति में पाया जाने वाला एक काला पत्थर है, जो लोहे के छोटे-छोटे टुकड़ों को अपनी ओर आकर्षित करता है। यह पत्थर लोहे का ऑक्साइड है। इसकी कोई निश्चित आकृति नहीं होती, कुछ पदार्थों को कृत्रिम विधियों द्वारा चुम्बक बनाया जाता है इन्हें […]

error: Content is protected !!