मैंगनीज

मैंगनीज  का निष्कर्षण: इसका निष्कर्षण मुख्यतः पाइरोलुसाइट (Pyrolusite) नामक अयस्क से किया जाता है।

मैंगनीज के यौगिक

  1. पोटैशियम परमैंगनेट (KMnO4): यह एक बैंगनी रंग का क्रिस्टलीय ठोस है। इसे लाल दवा के नाम से जाना जाता है। औद्योगिक पैमाने पर इसका उत्पादन मैंगनीज के अयस्क पाइरोलुसाइट से होता है। इसका रवा बैंगनी रंग का होता है तथा उसमें धातुई चमक भी होती है। यह जल में साधारण विलेय है तथा गुलाबी रंग का विलयन बनाता है। इसे प्रबलता से गर्म करने पर पोटैशियम मैंगनेट एवं मैंगनीज डाइऑक्साइड बनता है। पोटैशियम परमैगनेट का विस्तृत उपयोग आयतनीय विशलेषण में ऑक्सीकारक के रूप में होता है। कार्बनिक यौगिकों में द्विबंधन की जांच में भी इसका उपयोग होता है। ऊनी, रेशमी एवं सूती कपड़ों के विरंजन तथा तेलों को रंगहीन बनाने में भी इसका उपयोग होता है। यह जल को कीटाणुरहित करता है।
  2. मैंगनीज डाइऑक्साइड (Manganese Dioxide): शुष्क सेलों में मैंगनीज डाइऑक्साइड (MnO2) विध्रुवक का कार्य करता है।

नोट: जीवित मानव शरीर में मैंगनीज सबसे कम पाया जाने वाला तत्व है।

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *