सुनीति चौधुरी

सुनीति चौधुरी
225px
सुनीति चौधुरी
जन्म22 मई 1917
कोमिलाब्रिटिश राज
मृत्यु12 जनवरी 1988 ( 70 वर्ष की आयु में)
प्रसिद्धि कारण१४ वर्ष की अल्पायु में एक ब्रितानी मजिस्ट्रेट की हत्या

सुनीति चौधुरी ( २२ मई १९१७) भारत की एक क्रान्तिकारी नारी थीं। भारत के स्वतंत्रता संग्राम में १४ वर्ष की अल्पायु में उन्होने अपनी सखी शान्ति घोष के साथ मिलकर एक अत्याचारी ब्रिटिश मजिस्ट्रेट की हत्या की थी। सुनीति उस समय के प्रसिद्ध दीपाली संघ की सदस्या थीं।

बात २४ दिसम्बर १९३१ की है। त्रिपुरा के फैजुन्निसा बालिका विद्यालय की दो छात्राओं कुमारी शांति घोष और कुमारी सुनीति चौधरी ने मजिस्ट्रेट बी जी स्टीवेंसन से मिलने की अनुमति मांगी। कारण पूछने पर उन्होंने उत्तर दिया की वो लड़कियों की तैराकी प्रतियोगिता के सन्दर्भ में उनसे कुछ बात करना चाहती हैं। मजिस्ट्रेट के कमरे में पंहुचते ही उन्होंने गोली चला दी। उन वीरांगनाओं का निशाना अचूक था, स्टीवेंसन वहीं मर गया। दोनों वीर बालाएं गिरफ्तार कर ली गयीं। २७ फ़रवरी १९३२ को उन्हें आमरण काला पानी का दंड हुआ। सत्तावनी क्रांति के बाद यह पहली घटना थी जिसमे किसी महिला ने राजनीतिक हत्या की।

सन्दर्भ

Posted in Aik
Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *