मीरा दत्त गुप्ता

मीरा दत्त गुप्ता (५ अक्टूबर १९०७ – १८ जनवरी १९८३) कलकत्ता, भारत में महिलाओं के मुद्दों पर एक प्रसिद्ध स्वतंत्रता सेनानी, सामाजिक कार्यकर्ता, शिक्षाविद, राजनेता और कार्यकर्ता थी। वह बंगाल में विधान सभा (विधायक) के सदस्य रहे चुकी है और फिर पश्चिम बंगाल में १९३७ से १९५७ तक बीस वर्ष के लिए। वह भवानीपुर से पहले विधायक थी।

वह सरत दत्त गुप्ता, आईएएएस, भारत के महालेखा परीक्षक (रिटायर्ड) और सरजुब्ला दत्त गुप्ता की बेटी थीं। उनका जन्म ५ अक्टूबर को ढाका में उनके नाना नानी के घर पर हुआ था। उन्होंने गणित में एमएससी की कलकत्ता विश्वविद्यालय से।

वह १९३७ और १९४६ के बीच भारतीय कांग्रेस पार्टी के सदस्य थे। बंगाल की राज्य विधान सभा के सदस्य के रूप में उन्हें चार बार (१९३७, १९४२, १९४६ और १९५१) चुना गया था।[1]

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *