अन्दीझ़ान

अन्दीझ़ान या अन्दीजान (उज़बेक: Андижон, रूसी: Андижан, चग़ताई: اندیژان‎, अंग्रेज़ी: Andijanमध्य एशिया के उज़्बेकिस्तान देश का चौथा सबसे बड़ा शहर है और उस देश के अन्दीझ़ान प्रान्त की राजधानी है। यह फ़रग़ना वादी में उज़्बेकिस्तान की किर्गिज़स्तान की सीमा के साथ स्थित है। सन् १९९९ की जनगणना में इसकी आबादी ३,२३,९०० अनुमानित की गई थी। यह भारत के मुग़ल साम्राज्य के संस्थापक और पहले सम्राट बाबर का जन्मस्थल भी है।[1] अन्दीझ़ान शहर के बीच में इसका सबसे महत्त्वपूर्ण सार्वजनिक केंद्र ‘बाबर चौक’ कहलाता है।[2]

अनुक्रम

२००५ की घटनाएँ

१३ मई २००५ में यहाँ बाबर चौक में उज़बेक सरकार में भ्रष्टाचार और अन्य समस्याओं को लेकर प्रदर्शन हुए थे जिन्हें ‘अन्दीझ़ान विद्रोह’ का नाम दिया जाता है। इन्हें बंद करने के लिए सरकार ने यहाँ गोलियाँ चलाई जिस से बहुत प्रदर्शकों की मृत्यु हुई।[2]

नाम

‘अन्दीझ़ान’ में ‘झ़’ अक्षर के उच्चारण पर ध्यान दें क्योंकि यह बिना बिन्दु वाले ‘झ’ से ज़रा भिन्न है। इसका उच्चारण अंग्रेज़ी के ‘टेलिविझ़न’ शब्द के ‘झ़’ से मिलता है। ‘अन्दीझ़ान’ नाम की उत्पत्ति के बारे में विद्वानों में मतभेद है। बहुत से इतिहासकार समझते हैं कि यह नाम एक ‘अन्दी’ नामक तुर्की क़बीले पर पड़ा।

इन्हें भी देखें

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *