मोपला विद्रोह

मोपला विद्रोह
खिलाफत आन्दोलन, मोपला विद्रोह और भारतीय स्वतन्त्रता आन्दोलन का भाग
South Malabar 1921.png
वर्ष 1921 में दक्षिण मालाबार; लाल रंग में प्रदर्शित तालुक विद्रोह से प्रभावित
तिथि1921स्थानमालाबारपरिणामविद्रोह दबा दिया गया
योद्धा
ब्रिटिश राजहिन्दूमापिला
सेनानायक
थॉमस टी॰एस॰ हिट्चॉक, ए॰ एस॰ पी॰ अमुअली मुस्लियार, वरियान कान्नाथु कुंजहम्मद हाजी, सिथी कोया ठंगल, चेम्ब्रेसरी ठंगल, के॰ मोइटींकुट्टी हाजी, कोन्नार ठंगल, अबदू एच॰ हिन[1]
मृत्यु एवं हानि
ब्रितानी सेना: 43 सैनिक मारे गये, 126 सैनिक घायल50,000 को कारावास

मोपला विद्रोह : केरल के मोपला मुसलमानों द्वारा १९२1में स्थानीय जमीदारो द्वारा ब्रिटेनियों के विरुद्ध किया गया था। यह विद्रोह मोपला विद्रोह कहलाता है। यह विद्रोह मालाबार के एरनद और वल्लुवानद तालुका में खिलाफत आन्दोलन के विरुद्ध अंग्रेजों द्वारा की गयी दमनात्मक कार्यवाही के विरुद्ध आरम्भ हुआ था। इसमें अंग्रेज़ो द्वारा हिन्दुओ ओर मुस्लिमों के बीच दंगा करने का काफी प्रयास हुआ। जिसमें वो सफल भी हुए, इसी को आधार बनाकर विनायक दामोदर सावरकर ने ‘मोपला’ नामक उपन्यास की रचना की है।

इन्हें भी देखें

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *