सप्तवर्षीय युद्ध

सप्तवर्षीय युद्ध (Seven Years’ War) एक विश्वयुद्ध था जो 1754 तथा 1763 के बीच लड़ा गया। इसमें 1756 से 1763 तक की सात वर्ष अवधि में युद्ध की तीव्रता अधिक थी। इसमें उस समय की प्रमुख राजनीतिक तथा सामरिक रूप से शक्तिशाली देश शामिल थे। इसका प्रभाव योरपउत्तरी अमेरिका, केंद्रीय अमेरिका, पश्चिमी अफ्रीकी समुद्रतट, भारत तथा फिलीपींस पर पड़ा। भारतीय इतिहास के सन्दर्भ में इसे तृतीय कर्नाटक युद्ध (Third Carnatic War / 1757–63) कहते हैं। विश्व के दूसरे क्षेत्रों में इसे ‘द फ्रेंच ऐण्ड इण्डियन वार’ (उत्तरी अमेरिका, 1754–63); मॉमेरियन वार (स्वीडेन तथा प्रुसिया, 1757–62); तृतीय सिलेसियन युद्ध (प्रुसिया तथा आस्ट्रिया, 1756–63) आदि के नाम से जाना जाता है।सप्तवर्षीय युद्ध के क्षेत्र एवं सम्बन्धित युद्धरत देश
नीला: ग्रेट ब्रिटेन, प्रुसिया, पुर्तगाल तथा मित्रदेश
हरा: फ्रांस, स्पेन, आस्ट्रिया, रूस, स्वीडेन तथा मित्रदेश

अब्राहम की चोटी पर उलफे की विजय के साथ ही अमेरिका का इतिहास आरंभ हुआ .

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *