भारत में ऊर्जा

भारत में ऊर्जा 31 मार्च 2013 को विद्युत उत्‍पादन केन्‍द्रों की कुल अखिल भारतीय संस्‍थापित क्षमता 2,23,343.60 मेगावाट थी और मांग 1,35,453 मेगावाट थी।[1] २०२० के दशक की आरम्भ तक भारत सभी को बिजली और स्वच्छ भोजन-निर्माण की सुविधाएं पहुंचाने में सफल रहेगा। इंटरनैशनल एनर्जी एजेंसी के अनुसार, भारत इन लक्ष्यों को पाने में अन्य विकासशील देशों से एक दशक आगे है।[2]


२०१२-१३ तक भारत में ऊर्जा की स्थिति निम्नलिखित सारणी में दर्शायी गयी है- :

भारत: कैलेण्डर वर्ष २०१६ में उपयोग की गयी कुल प्राथमिक ऊर्जा 723.9 Mtoe (परम्परागत बायोमास के प्रयोग को छोड़कर)[3]██ 411.9 Mtoe Coal (56.90%)██ 212.7 Mtoe Petroleum & other liquids (29.38%)██ 45.1 Mtoe Natural gas (6.23%)██ 8.6 Mtoe Nuclear (1.19%)██ 29.1 Mtoe Hydroelectricity (4.01%)██ 16.5 Mtoe Other renewables (2.28%)

भारत में ऊर्जा[4]
जनसंख्याप्राथमिक ऊर्जाउत्पादनआयतविद्युतCO2-उत्सर्जन
मिलियनTWhTWhTWhTWhMt
20041,0806,6625,4301,2304941,103
20071,1236,9195,2441,7456101,324
20081,1407, 2225,4461,8366451,428
20091,1557,8605,8442,1166901,586
20101,1718,0566,0322,1107551,626
20121,2418,7166,2912,4838351,745
2012R1,2379,1666,3332,8299401,954
20131,2509,0186,0862,9629791,869
Change 2004–108.4%20.9%11.1%72%53%47%
Mtoe = 11.63 TWh, Prim. energy includes energy losses that are 2/3 for nuclear power[5]2012R = CO2 calculation criteria changed, numbers updated

भारत में सौर ऊर्जा

मुख्य लेख: भारत में सौर ऊर्जा

भारत में पवन ऊर्जा

मुख्य लेख: भारत में पवन ऊर्जा

भारत में परमाणु ऊर्जा

मुख्य लेख: भारत में परमाणु ऊर्जा

इन्हें भी देखें

बाहरी कड़ियाँ

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *