शारीरिकी

शारीरिकी, शारीर या शरीररचना-विज्ञान (अंग्रेजी:Anatomy), जीव विज्ञान और आयुर्विज्ञान की एक शाखा है जिसके अंतर्गत किसी जीवित (चल या अचल) वस्तु का विच्छेदन कर, उसके अंग प्रत्यंग की रचना का अध्ययन किया जाता है। अचल में वनस्पतिजगत तथा चल में प्राणीजगत का समावेश होता है और वनस्पति और प्राणी के संदर्भ में इसे क्रमश: पादप शारीरिकी और जीव शारीरिकी कहा जाता है। जब किसी विशेष प्राणी अथवा वनस्पति की शरीररचना का […]

शिश्न

शिश्न की संरचना: 1 — मूत्राशय, 2 — जघन संधान, 3 — पुरस्थ ग्रन्थि, 4 — कोर्पस कैवर्नोसा, 5 — शिश्नमुंड, 6 — अग्रत्वचा, 7 — कुहर (मूत्रमार्ग), 8 — वृषणकोष, 9 — वृषण, 10 — अधिवृषण, 11— शुक्रवाहिनी शिश्न (Penis) कशेरुकी और अकशेरुकी दोनो प्रकार के कुछ नर जीवों का एक बाह्य यौन अंग है। तकनीकी रूप से शिश्न मुख्यत: स्तनधारी जीवों में प्रजनन हेतु एक प्रवेशी अंग है, साथ ही यह मूत्र निष्कासन हेतु एक बाहरी अंग […]

शुक्राणु

शुक्राणु पुरुष प्रजनन कोशिका, या युग्मक, अनीसोगौमस के रूपों में यौन प्रजनन (वे रूप हैं जिनमें एक है) बड़ा, महिला प्रजनन कोशिका और एक छोटा, “पुरुष” एक)। पशु मोटाइल शुक्राणु को एक फ्लैगेलम के रूप में जाना जाता है, जिसे शुक्राणुजोज़ा के रूप में जाना जाता है, जबकि कुछ लाल शैवाल और कवक गैर-प्रेरक शुक्राणु कोशिकाओं का उत्पादन करते हैं। स्पर्मेटिया के रूप में जाना जाता है [1] विभिन्न प्रकार के यौन प्रजननो जैसे एनिसोगैमी (anisogamy) […]

सूक्ष्मजैविकी

सूक्ष्मजीवों से स्ट्रीक्ड एक अगार प्लेट सूक्ष्मजैविकी उन सूक्ष्मजीवों का अध्ययन है, जो एककोशिकीय या सूक्ष्मदर्शीय कोशिका-समूह जंतु होते हैं।[1] इनमें यूकैर्योट्स जैसे कवक एवं प्रोटिस्ट और प्रोकैर्योट्स, जैसे जीवाणु और आर्किया आते हैं। विषाणुओं को स्थायी तौर पर जीव या प्राणी नहीं कहा गया है, फिर भी इसी के अन्तर्गत इनका भी अध्ययन होता है।[2] संक्षेप में सूक्ष्मजैविकी उन सजीवों का अध्ययन है, जो कि नग्न आँखों से दिखाई नहीं देते हैं। […]

सिस्टम्स बायोलॉजी

सिस्टम्स बायोलॉजी जीव विज्ञान की एक शाखा है। [छुपाएँ]देवासंजीवविज्ञान के मुख्य उप-क्षेत्र शरीर संरचना विज्ञान · अंतरिक्षजैविकी · जैवरासायनिकी · जैवसूचना विज्ञान · जैवसांख्यिकी · पादप विज्ञान · कोशिका विज्ञान · क्रोनोबायोलॉजी · विकासशील जीव विज्ञान · पारिस्थितिकी · महामारी विज्ञान · जैवविकास विज्ञान · अनुवांशिकी · जीनोमिक्स · मानव विज्ञान · इम्म्युनोलॉजी · सागरीय विज्ञान · सूक्ष्मजैविकी · आण्विक जैविकी · न्यूरोसाइंस · पोषण विज्ञान · जीवन का उद्गम · जीवाश्मविज्ञान · परजीवविज्ञान · विकृति विज्ञान · शरीर क्रिया विज्ञान · सिस्टम्स बायोलॉजी · टैक्सोनॉमी · प्राणी विज्ञान · जैवप्रौद्योगिकी श्रेणी:  जीव विज्ञान

सिलिया

सिलियम फेफड़ों के रेस्पिरेटरी एपिथेलियम से प्रोजेक्ट करती सिलिया विवरण लातिनी सिलियम अभिज्ञापक कूट TH H1.00.01.1.01014 शरीररचना परिभाषिकी सिलिया (एकवचन: सिलियम) एक यूकेरियोटिक सेल में पाई जाने वाले कोशिकांगों को कहा जाता है। सिलिया पतले आकार की होती हैं, और किसी बड़ी सेल बॉडी से प्रोजेक्ट करती हैं। एक सिलियम २० माइक्रोन तक लंबा हो सकता […]

सर्दन ब्लॉट

सर्दन ब्लॉट एक प्रणाली है जो इस्तेमाल होता है आणविक जीव विज्ञान मे, डीएनए अनुक्रम का पता लगाया जाता है डीएनए के नमूनो में से। सर्दन ब्लॉट में डीएनए का हस्तांतरण वैद्युतकणसंचलन के दुआर, डीएनए के टुकडो को फिल्टर झिल्ली पर अलग करना और प्रोब को उसमे डालना और उनकी जाँच करना ए सब आता है। सर्दन ब्लॉट […]

सम्भोग

सम्भोग (अंग्रेजी: Sexual intercourse) या सेक्सुअल इन्टरकोर्स) मैथुन या सेक्स की उस क्रिया को कहते है जिसमे नर का लिंग मादा की योनि में प्रवेश करता है। सम्भोग अलग अलग जीवित प्रजातियों के हिसाब से अलग अलग प्रकार से हो सकता है। सम्भोग को योनि मैथुन, काम-क्रीड़ा, रति-क्रीड़ा भी कहते हैं। सृष्टि में आदि काल से सम्भोग का मुख्य काम वंश को आगे चलाना […]

समुद्री जीवविज्ञान

समुद्री जीवविज्ञान (Marine Biology) के अंतर्गत महासागरों, सागरों के अन्दर के एवं उनके तटों के पादप एवं प्राणियों की संरचना, जीवनवृत्त तथा उनकी प्रकृति का अध्ययन किया जाता है। ऐसे अध्ययन वैज्ञानिक तथा आर्थिक महत्व के होते हैं, जैसे खाद्य मछलियों के प्रवास (migration) का अध्ययन। समुद्री जीवविज्ञान के अध्ययन से समुद्री जीवों के जीवनवृत्त पर विभिन्न भौतिक एवं […]

समुद्र विज्ञान

विज्ञान रूपबद्ध विज्ञान[छुपाएँ]गणित · गणितीय तर्कशास्त्र · गणितीय सांख्यिकी · संगणक विज्ञान भौतिक विज्ञान[छुपाएँ]भौतिक शास्त्रचिरसम्मत भौतिकी · आधुनिक भौतिकी व्यावहारिक भौतिकी · कम्प्यूटेशनल भौतिकीपरमाणविय भौतिकी · नाभिकीय भौतिकीकण भौतिकी · प्रायोगिक भौतिकी सैद्धांतिक भौतिकीसघन पदार्थ भौतिकीयांत्रिकी · चिरसम्मत यांत्रिकीप्रमात्रा यान्त्रिकी (परिचय)सातत्य यांत्रिकी · विरूपण और प्रवाहठोस अवस्था यांत्रिकी · तरल यांत्रिकीप्लाज़्मा (भौतिकी) · उष्मागतिकीसामान्य आपेक्षिकता · विशिष्ट आपेक्षिकतास्ट्रिंग सिद्धांत · M-सिद्धान्त · Tachyonic fieldरसायन शास्त्रअम्ल-क्षार अभिक्रिया सिद्धान्त · कीमियाविश्लेषी रसायन शास्त्र · खगोल रसायन शास्त्रजैवरसायनिकी · क्रिस्टलकीपर्यावरण रसायन शास्त्र · खाद्य रसायन शास्त्रभूरसायन · ग्रीन रसायन शास्त्रअकार्बनिक रसायन · पदार्थ विज्ञानआण्विक भौतिकी · नाभिकीय रसायन शास्त्रकार्बनिक रसायन · प्रकाश रसायनभौतिक रसायन · रेडियो-रसायन शास्त्रठोस […]