इंदिरा गांधी पर्यावरण पुरस्कार

पर्यावरण संरक्षण के क्षेत्र में योगदान के लिये दिये जाने वाले इस पुर्सकार की शुरुआत भारत सरकार द्वारा वर्ष 1987 में हुई। इसमें पांच लाख रुपये और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है। पुरस्कार के लिये किसी एक संगठन या शख्सियत का चयन उपराष्ट्रपति की अध्यक्षता वाली समिति करती है। 2००8 ई। के लिए यह पुरस्कार तमिलनाडु के ईशा फाउंडेशन को दिया गया। इस संगठन के नाम एक ही दिन में आठ लाख से अधिक पौधारोपण करने का गिनीज विश्व रिकॉर्ड है। बहुत अच्छा जी पर्यावरण संरक्षण के लिए हमें जीवन मे जरूर कुछ करना चाहिए । मैं प्रदीप पोटलिया ढांड गुरु महाराज के इस पावन कार्य के लिए प्रणाम करता हु ।।

संदर्भ

ईशा फाउंडेशन को इंदिरा गांधी पर्यावरण पुरस्कार : हिंदुस्तान

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *