नर्दन ब्लॉट

नर्दन ब्लॉट एक प्रणाली है जो आणविक जीवविज्ञान में, आरएनए के नमूनों से आरएनए अनुक्रम का पता लगाने के लिये इस्तेमाल किया जाता है।[1]

आरएनए का पता लगाने के द्वारा जीन अभिव्यक्ति का अध्ययन किया जाता है। नर्दन ब्लॉट में आरएनए का हस्तांतरण वैद्युतकणसंचलन के दुआर, आरएनए के टुकडो को फिल्टर झिल्ली पर अलग करना और प्रोब को उसमे डालना और उनकी जाँच करना यह सब आता है।

तरीका

नर्दन ब्लॉट तकनीक का तरीका बिकुल सर्दन ब्लॉट के सामान है।नर्दन ब्लॉट योजना

  • प्रतिबंधित एंजाइम बड़े आरएनए के नमूने को काट कर छोटे आरएनए के टुकडे कर देते हैं।
  • आरएनए के टुकड़ो को वैद्युतकणसंचलन किया जाता है अगरोसे जेल में आरएनए अलग हो जाते हैं उनके आकार के मुताबिक।
  • अलग हुए आरएनए को तत्व-विकिरण करने के लिए, जेल की प्लेट के ऊपर नैत्रोसल्लोस झिल्ली या फ़िल्टर रखी जाती है और उस पर पेपर रखे जाते हैं।
  • नैत्रोसल्लोस झिल्ली या फ़िल्टर पर प्रतिबंधित टुकड़े लग जाते हैं।
  • फेर फ़िल्टर को सेते किया जाता है संकरण के तहत रेडियोलेबल आरएनए प्रोब के साथ।
  • अतिरिक्त प्रोब प्रक्षालित कर दिए जाते हैं।
  • जो प्रोब प्रतिबंधित टुकडो से जुड़े हुए हैं उनको ऑटोरेडियोग्राफी से पता लगा लिया जाता है।

उपयोग

  • आणविक जीवविज्ञान में।
  • सेलुलर संरचना पर नियंत्रण का निरीक्षण करने में मदद करता है।
  • भेदभाव के दौरान विशेष रूप से जीन अभिव्यक्ति की दरों के निर्धारण से समारोह करने मे।
  • असामान्य या रोग पता लगाने मे।
  • नर्दन ब्लॉट एक ऊतकों, अंग , विकास के चरणों , पर्यावरण तनाव का स्तर, रोगज़नक़ संक्रमण के बीच एक विशेष जीन की अभिव्यक्ति पैटर्न का पालन करने की अनुमति देता है, और उपचार के पाठ्यक्रम मे।

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *