दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान

दाचीगाम राष्ट्रीय उद्यान के तथ्य– दाचीगाम भारत देश में जम्मू और कश्मीर में श्रीनगर से 22 किमी !

उद्यान की स्थापना 1981 में हुई थी। समुद्र तल से उद्यान की औसत ऊंचाई 2990 मीटर है। उद्यान उच्च ऊंचाई वाले शीतोष्ण क्षेत्र में स्थित है। यह 141 किमी में फैला है। इस उद्यान से सबसे करीबी शहर श्रीनगर है।उद्यान में पाए जाने वाले मुख्य पेड़ हैं– हिमालयी नम शीतोष्ण सदाबहार, नम पर्णपाती और झाड़ियां, देवदार, चीड़ एवं शाहबलूत (ओक)। आरंभ में दाचीगाम की स्थापना श्रीनगर शहर को स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए की गई थी। यह उद्यान हंगुल या कश्मीरी हिरण के घर के तौर पर जाना जाता है। वसंत और शरद ऋतु में नीचले इलाकों में हिमालयी काला भालू दिखाई देता है। सर्दी के मौसम में यह सो जाता है। लंबी पूंछ वाले मार्मोट गर्मी के मौसम में उपरी इलाकों में बहुत देखे जा सकते हैं जबकि चूहे के जैसे खरहे (Mouse Hare) पूरे वर्ष सक्रिए रहते हैं।

यह राष्ट्रीय उद्यान प्रसिद्ध डल झील के जलग्रहण क्षेत्र का लगभग आधे क्षेत्र पर अपना अधिकार रखता है और आज भी श्रीनगर के निवासियों को स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस उद्यान के महत्वपूर्ण वन्यजीव प्रजातियां हैं– तेंदुआ, हिम तेंदुआ, काला भालू, भूरा भालू, जंगली बिल्ली, हिमालयी मार्मोट, कस्तूरी मृग, सीरो और लाल लोमड़ी (red fox)। पक्षियों में तीतर के कोकलास और मोनल, बुलबुल, मिनिवेट, बार्ड वल्चर, सुनहरे चील आम हैं।इस उद्यान में घूमने का सबसे अच्छा मौसम मार्च से जून के बीच होता है। पर्यटकों के लिए इस उद्यान में लॉज और रेस्ट हाउस हैं। दाचीगाम दो हिस्सों में है। लोअर दाचीगाम में पर्यटक आसानी से जा सकते हैं जबकि अपर दाचीगाम घूमने के लिए पूरे दिन का समय चाहिए और यह यात्रा थोड़ी कठिन भी है।

विशेषता

सन्दर्भ

बाहरी कडियाँ

[छुपाएँ]देवासं भारत के राष्ट्रीय उद्यान
उत्तर भारतजम्मू कश्मीरदाचीगाम  • हेमिस • किश्तवार • सलीम अलीहिमाचल प्रदेशग्रेट हिमालयन राष्ट्रीय उद्यान • पिन घाटीउत्तराखंडकार्बेट • गंगोत्री • गोविंद • नंदा देवी • राजाजी • फूलों की घाटीहरियाणाकलेसर • सुल्तानपुरउत्तर प्रदेशनवाबगंज • दुधवाराजस्थानदर्राह • मरुभूमि • केवलादेव • रणथंबोर • सरिस्का • माउंट आबू
दक्षिण भारतआंध्र प्रदेशकासु ब्रह्मानन्द रेड्डी • महावीर हरिण वनस्थली • मृगवनी • श्री वेंकटेश्वरकर्नाटकअंशी • बांदीपुर • बनेरघाट • कुदरेमुख • नागरहोलतमिलनाडुगुइंडी • मन्नार की खाड़ी • इंदिरा गांधी • पलानी पर्वत • मुदुमलाइ • मुकुर्थीकेरलएराविकुलम • मथिकेत्तन शोला • पेरियार • साइलेंट वैली
पूर्वी भारतबिहारवाल्मीकिझारखंडबेतला • हज़ारीबागपश्चिम बंगालबुक्सा • गोरुमारा • न्योरा घाटी • सिंगालीला • सुंदरवन • जलदापाड़ाउड़ीसाभीतरकनिका • सिमलीपाल
पश्चिम भारतगुजरातकृष्ण मृग • गिर • कच्छ की खाड़ी • वंस्दामहाराष्ट्रचांदोली • गुगामल • नवेगाँव • संजय गांधी • ताडोबागोआमोल्लेम
मध्य भारतमध्य प्रदेशबांधवगढ • जीवाश्म • कान्हा • कूनो • माधव • पन्ना • पेंच • संजय • सतपुरा • वन विहार • डायनासोरछत्तीसगढइंद्रावती • कांगेर घाटी
पूर्वोत्तर भारतअरुणाचल प्रदेशमोलिंग • नमदाफासिक्किमकंचनजंगाअसमदिबरू-साइखोवा • काज़ीरंगा • मानस • नमेरी • ओरांगनागालैंडन्टङ्कीमेघालयबलफकरम • नोकरेक  • नोंगखाइलेममणिपुरकेयबुल लामजाओ • सिरोईमिजोरममुर्लेन • फौंगपुइ
द्वीपअंडमान एवं निकोबारकैम्पबॅल बे • गैलेथिआ • महात्मा गांधी • माउन्ट हैरियट • मिडल बटन द्वीप • नौर्थ बटन द्वीप • रानी झांसी • सैडल पीक • साउथ बटन द्वीप
राष्ट्रीय उद्यान • भारत के अभयारण्य • वन एवं पर्यावरण मंत्रालय (भारत)

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *