सुवर्णरेखा नदी

सुवर्णरेखा नदी
Subarnarekha River
ᱥᱚᱵᱚᱨᱱᱟᱠᱟ
पश्चिम बंगाल में गोपीवल्लभपुर के समीप सुवर्णरेखा (सितम्बर 2005)
देश भारत
राज्यझारखण्डओड़िशापश्चिम बंगाल
उपनदियाँ
 – बाएँदुलंग नदी
 – दाएँकाँची नदी, खड़कई नदी, करकरी नदी, रारू नदी, गर्रु नदी
नगरचांडिलजमशेदपुरघाटशिलागोपीवल्लभपुर
स्रोत23°18′N 85°11′E
 – स्थानरानी चुआँ, राँची के समीप, छोटा नागपुर पठार
 – ऊँचाई610 मी. (2,001 फीट)
मुहाना21°33′18″N 87°23′31″Eनिर्देशांक21°33′18″N 87°23′31″E
 – स्थानसुवर्णरेखा बंदर / चौमुखा गाँवओड़िशा में बंगाल की खाड़ी में विलय
 – ऊँचाईमी. (0 फीट)
लंबाई395 कि.मी. (245 मील)
जलसम्भर18,951 कि.मी.² (7,317 वर्ग मील)
प्रवाह
 – औसत392 मी.³/से. (13,843 घन फीट/से.)

सुवर्णरेखा या स्वर्णरेखा भारत के झारखण्डपश्चिम बंगाल और ओड़िशा राज्यों में बहने वाली एक नदी है।[1][2]

विवरण

यह राँची नगर से 16 किलोमीटर दक्षिण-पश्चिम में स्थित नगड़ी गाँव में रानी चुआं नामक स्थान से निकलती है और उत्तर पूर्व की ओर बढ़ती हुई मुख्य पठार को छोड़कर प्रपात के रूप में गिरती है। इस प्रपात (झरना) को हुन्डरु जलप्रपात (hundrughagh) कहते हैं। प्रपात के रूप में गिरने के बाद नदी का बहाव पूर्व की ओर हो जाता है और मानभूम जिले के तीन संगम बिंदुओं के आगे यह दक्षिण पूर्व की ओर मुड़कर सिंहभूम में बहती हुई उत्तर पश्चिम से मिदनापुर जिले में प्रविष्टि होती है। इस जिले के पश्चिमी भूभाग के जंगलों में बहती हुई बालेश्वर जिले में पहुँचती है। यह पूर्व पश्चिम की ओर टेढ़ी-मेढ़ी बहती हुई बालेश्वर नामक स्थान पर बंगाल की खाड़ी में गिरती है। इस नदी की कुल लंबाई 474 किलोमीटर है और लगभग 28928 वर्ग किलोमीटर का जल निकास इसके द्वारा होता है। इसकी प्रमुख सहायक नदियाँ काँची एवं कर्कारी हैं। भारत का प्रसिद्ध एवं पहला लोहे तथा इस्पात का कारखाना इसके किनारे स्थापित हुआ। कारखाने के संस्थापक जमशेद जी टाटा के नाम पर बसा यहाँ का नगर जमशेदपुर या टाटानगर कहा जाता है। अपने मुहाने से ऊपर की ओर यह 16 मील तक देशी नावों के लिए नौगम्य (navigable) है।

इन्हें भी देखें

[छुपाएँ]देवासंभारत की नदियाँ
अलकनन्दा नदी  • इंद्रावती नदी  • कालिंदी नदी  • काली नदी  • कावेरी नदी  • कृष्णा नदी  • केन नदी  • कोशी नदी  • क्षिप्रा नदी  • खड़कई नदी  • गंगा नदी  • गंडक नदी  • गोदावरी नदी  • गोमती नदी  • घाघरा नदी  • चम्बल नदी  • झेलम नदी  • टोंस नदी  • तवा नदी  • चनाब नदी  • ताप्ती नदी  • ताम्रपर्णी नदी  • तुंगभद्रा नदी  • दामोदर नदी  • नर्मदा नदी  • पार्वती नदी  • पुनपुन नदी  • पेन्नार नदी  • फल्गू नदी  • बनास नदी  • बराकर नदी  • बागमती  • बाणगंगा नदी  • बेतवा नदी  • बैगाई नदी  • बैगुल नदी  • ब्यास नदी  • ब्रह्मपुत्र नदी  • बकुलाही नदी  • भागीरथी नदी  • भीमा नदी  • महानंदा नदी  • महानदी  • माही नदी  • मूठा नदी  • मुला नदी  • मूसी नदी  • यमुना नदी  • रामगंगा नदी  • रावी नदी  • लखनदेई नदी  • लाछुंग नदी  • लूनी नदी  • शारदा नदी  • शिप्रा नदी  • सतलुज नदी  • सरस्वती नदी  • साबरमती नदी  • सिन्धु नदी  • सुवर्णरेखा नदी  • सोन नदी  • हुगली नदी  • टिस्टा नदी  • सई नदी

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *