बिन्दिया गोस्वामी

बिन्दिया गोस्वामी
व्यवसायअभिनेत्री

बिन्दिया गोस्वामी हिन्दी फ़िल्मों की पूर्व अभिनेत्री हैं। उन्होंने 1970 के दशक के अंत से 1980 के दशक के शुरुआत तक हिन्दी फिल्मों में अभिनय किया।

व्यक्तिगत जीवन

बिन्दिया का जन्म भरतपुर में श्री वेणुगोपाल गोस्वामी जो कि तमिल अयंगर थे और कैथोलिक मां डॉली, के यहाँ हुआ था। बिन्दिया ने अपने सह-कलाकार विनोद मेहरा से शादी की थी, लेकिन शादी के चार साल बाद उनका तलाक हो गया।[1] इसके बाद, बिन्दिया ने 1985 में निर्देशक जे॰ पी॰ दत्ता से शादी करने के लिए अपने अभिनय करियर को छोड़ दिया, जिनके साथ उनकी दो बेटियाँ हैं, निधि और सिद्धि।

फिल्मी सफर

बिन्दिया को हेमा मालिनी की माँ द्वारा किसी पार्टी में खोजा गया था, जब वह सिर्फ चौदह साल की थी। उन्होंने फिल्म निर्माताओं से उनकी सिफारिश की। उनकी पहली हिन्दी फिल्म जीवन ज्योति (1976) थी जिसमें उन्होंने विजय अरोड़ा के साथ अभिनय किया था। विजय का करियर गिरावट की ओर था और फिल्म फ्लॉप हो गई। बिन्दिया आगे बढ़ी और जल्द ही निर्देशक बासु चटर्जी के साथ खट्टा मीठा (1977) और प्रेम विवाह (1979) में सफल रही। हालाँकि, उनकी सबसे बड़ी हिट, निर्देशक ऋषिकेश मुखर्जी की कॉमेडी फिल्म गोल माल (1979) थी।[2] उस फिल्म की सफलता ने उन्हें बड़े बजट की फिल्म शान (1980) में शशि कपूर के विपरीत भूमिका दी। हालाँकि, फिल्म को “औसत” घोषित किया गया था, लेकिन बिन्दिया गोस्वामी की भूमिका पर गौर नहीं किया गया। वह विनोद मेहरा के साथ लोकप्रिय फिल्म दादा (1979) में भी दिखाई दीं।

उनकी अन्य फिल्में रहीं, टक्कर (1980), सनसनी (1981), होटल (1981), खुद्दार (1982), आमने सामने (1982), हमारी बहू अलका (1982), रंग बिरंगी (1983), चोर पुलिस (1983), मेंहदी, (1983), अविनाश (1986), मेरा यार मेरा दुश्मन (1987), आदि।

पोशाक डिजाइनर के रूप में कैरियर

बिन्दिया ने रानी मुखर्जीकरीना कपूर और ऐश्वर्या राय जैसे महिला सितारों के लिए अपने पति जे॰ पी॰ दत्ता की फिल्मों जैसे बॉर्डर (1997), रिफ्यूजी (2000, एल ओ सी कारगिल (2003) और उमराव जान (2007) के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइनिंग का काम संभाला।

प्रमुख फिल्में

वर्षफ़िल्मचरित्रटिप्पणी
1987मेरा यार मेरा दुश्मन
1986अविनाश
1983मेंहदीगौरी
1983चोर पुलिस
1983रंग बिरंगी
1982हमारी बहू अलकाअल्का
1982आमने सामनेइंस्पेक्टर ज्योति
1982खुद्दार
1981होटल
1981सनसनीनिशा श्रीवास्तव
1980टक्करमीना
1980शानरेनू
1980बंदिशशांति
1979गोल मालउर्मिला
1979खानदानसंध्या
1979प्रेम विवाह
1979मुकाबला
1979जानी दुश्मनशांति
1978राम कसम
1978खट्टा मीठा
1977चला मुरारी हीरो बनने
1977जय विजय
1977मुक्तिपिंकी

नामांकन और पुरस्कार

सन्दर्भ

  1.  “विनोद मेहरा को राजेश खन्ना के हाथों झेलनी पड़ी थी शिकस्त, रेखा से दोस्ती की वजह से रहे सुर्खियों में”एनडीटीवी इंडियामूल से 28 मार्च 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2019.
  2.  “शादीशुदा हीरो के प्यार में इस हीरोइन को चुकानी पड़ी थी भारी कीमत, अब है इस फिल्ममेकर की बीवी”अमर उजाला. मूल से 28 मार्च 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 मार्च 2019.

बाहरी कड़ियाँ

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *