ब्रजभाषा सिनेमा

ब्रजभाषा सिनेमा उत्तर भारत में एक क्षेत्रीय फिल्म उद्योग है, यह मुख्य रूप से बृज में सक्रिय है।

इतिहास

ब्रजभाषा की पहली फीचर फिल्म बनाने का कार्य सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता, निर्माता व निर्देशक शिव कुमार ने किया, उन्होंने वर्ष 1982 में ब्रज भूमि फिल्म बनाई जो कि व्यवसायिक रूप से अत्याधिक सफल रही[1] वर्ष 1984 में सुप्रसिद्ध हास्य कवि काका हाथरसी द्वारा निर्मित और उनके पुत्र लक्ष्मीनारायण गर्ग द्वारा निर्देशित ब्रजभाषा फीचर फिल्म जमुना किनारे प्रदर्शित हुई। वर्ष 2000 में सिद्धार्थ नागर द्वारा निर्मित व निर्देशित ब्रज कौ बिरजू प्रदर्शित हुई। [2][3][4]

चित्रपट

सन्दर्भ

  1.  “ब्रजभाषा की फिल्मों के जनक कहे जाने वाले शिवकुमार का योगदान सिनेमा के लिए हमेशा याद रहेगा”. ब्रज पत्रिका.
  2.  “संग्रहीत प्रति”. मूल से 1 मार्च 2020 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अप्रैल 2020.
  3.  “परवान चढ़ने लगा ब्रज सिनेमा, पहले भी मची है ब्रज की धूम”. जागरण. मूल से 25 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 28 अप्रैल 2020.
  4.  “फिल्मकार और रंगकर्मी संदीपन विमलकांत नागर का निधन, ब्रजभाषा में कई फिल्मों की दी सौगात”. Up की खबर.
  5.  “Ashwatthama”. www.cinestaan.com.
  6.  “Myths, Midwives and Motherhood”. Indianexpress. मूल से 29 दिसंबर 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 3 मई 2020.

श्रेणी

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *