श्रिया सरन

श्रिया सरन

श्रिया सरन
व्यवसायअभिनेत्री
सक्रिय वर्ष2001–वर्तमान
वेबसाइट
http://www.shriyasaran.com

श्रिया सरन (जन्म 11 सितंबर 1982)[1] एक भारतीय फ़िल्म अभिनेत्री हैं। उन्होंने अपने कैरियर की शुरूआत संगीत वीडियो में अभिनय द्वारा की, साथ ही कलाकार बनने का अपना सपना पूरा करने के लिए, वे एक अभिनय स्टूडियो में भाग लेती रहीं। 2001 में इष्टम के साथ श्रीगणेश करते हुए, 2002 में अपनी पहली ज़बरदस्त हिट फ़िल्म संतोषम में भानु की भूमिका के ज़रिए उन्होंने तेलुगू सिनेमा का ध्यान अपनी ओर आकर्षित किया। इस फ़िल्म के बाद वे कई तेलुगू फ़िल्मों में प्रमुख कलाकारों के साथ नज़र आईं, जबकि, साथ ही बॉलीवुड और तमिल फ़िल्म उद्योग में भी प्रवेश किया। 2007 में, शिवाजी: द बॉस में रजनीकांत के साथ अभिनय करने के बाद श्रिया सरन एक राष्ट्रीय हस्ती बन गईं, जिसके पश्चात उन्होंने कई बॉलीवुडकॉलीवुड और हॉलीवुड फ़िल्म भी साईन कीं.

श्रिया सरन, रोमांटिक कॉमेडी और ड्रामा से लेकर कल्पित विज्ञान तथाएक्शन थ्रिलर तक विस्तृत, मुख्यतः बड़े बजट वाली तथा प्रमुख स्टुडियो फ़िल्मों में नायिका की भूमिका निभाती हैं। उनकी सर्वाधिक लोकप्रिय प्रदर्शित फ़िल्मों में संतोषम (2002), टैगोर (2003), शिवाजी: द बॉस (2007) और कंदस्वामी (2009) शामिल हैं।

कैरियर

शुरूआती कैरियर

श्रिया को पहली बार कैमरे के सामने आने का मौक़ा तब मिला, जब वे दिल्ली के LSR कॉलेज में द्वितीय वर्ष की छात्रा थीं, जिसे उन्होंने शूटिंग में भाग लेने के लिए छोड़ दिया। श्रिया सरन पहली बार रीनू नाथन की थिरकती क्यों हवा म्यूज़िक वीडियो में परदे पर नज़र आईं, जिसमें उन्हें अपनी डांस टीचर की सिफ़ारिश पर काम करने का मौक़ा मिला। बनारस में फ़िल्मांकित वीडियो से उन्होंने लोकप्रियता हासिल की, जिसकी वजह से रामोजी फ़िल्म्स ने नवोदित कलाकारों द्वारा अभिनीत व निर्देशित फ़िल्म इष्टम में नेहा की प्रमुख भूमिका की पेशकश की। केवल एक फ़िल्म में काम करने की चाहत के बावजूद, श्रिया सरन को अत्यंत लोकप्रियता हासिल हुई। इष्टम प्रदर्शित होने से पहले, श्रिया सरन ने फ़िल्म उद्योग के चोटी के सितारे, नागार्जुनतरुण तथा चिरंजीव के साथ तीन बड़ी बजट की फ़िल्में, क्रमशः संतोषमनुव्वे नुव्वे और टैगोर, साईन कीं.

फ़िल्म कैरियर

श्रिया ने फ़िल्मों में अपने अभिनय कैरियर की शुरूआत उषा किरण मूवीज़ द्वारा निर्मित तेलुगू फ़िल्म इष्टम (2001) से की। उनकी यह पहली फ़िल्म बॉक्स ऑफ़िस पर कुछ ठीक चल नहीं पाई, लेकिन कई तेलुगू निर्माता और निर्देशकों ने उन पर ग़ौर किया। जल्द ही उन्होंने नागार्जुन की संतोषम (2002) साईन की, जो ज़बरदस्त हिट साबित हुई और उसके बाद उन्होंने पीछे मुड़ कर नहीं देखा.वे काफ़ी भाग्यशाली रहीं कि कैरियर के प्रारंभिक चरण में ही उन्हें चिरंजीवी की नायिका बन कर अभिनय करने का मौक़ा मिला। टैगोर की भारी सफलता के बाद वे दक्षिण भारतीय फ़िल्म उद्योग की चोटी की अभिनेत्रियों में से एक बन गईं। उनकी नुव्वे नुव्वे और भागीरथ जैसी बाद की फ़िल्मों ने उन्हें अनेक पुरस्कारों से नवाज़ा. बतौर प्रभास की नायिका उनके द्वारा अभिनीत छत्रपति फ़िल्म, उनके कैरियर की सबसे बड़ी हिट फ़िल्मों में से एक थी। श्रिया ने फ़ेयर एंड लवली, लक्स और हेड एंड शोल्डर्स जैसे बड़े ब्रांडों को भी समर्थन दिया है।

उन्होंने तेलुगू अभिनेता तरुण, और त्रिशा कृष्णन के साथ एनक्कु 20 उनक्कु 18 (2003) से तमिल फ़िल्मों में अपना पहला क़दम रखा। फ़िल्म बॉक्स-ऑफ़िस पर औसत रूप से हिट रही, लेकिन ए.आर. रहमान के संगीत की वजह से वह विशेषतः म्यूज़िकल हिट साबित हुई। तमिल फ़िल्मों में उनके लिए काफ़ी ग्लैमरस भूमिकाओं के प्रस्ताव आए, पर अगले एक वर्ष तक उन्होंने टॉलीवुड में अपना काम जारी रखा। जयम रवि के साथ फ़िल्म मलै के ज़रिए उन्होंने कॉलीवुड में अपनी वापसी की। फ़िल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन दिखाया. उन्होंने कई चोटी की अभिनेत्रियों को पछाड़ कर, रजनीकांत के साथ शंकर की शिवाजी: द बॉस में प्रतिष्ठित भूमिका हासिल की, जो दशावतारम के बाद, आज तक की सबसे महंगी भारतीय फ़िल्म है।[तथ्य वांछित] हाल ही में वे अलगिय तमिल मगन में विजय की नायिका बन कर नज़र आईं और इस समय विक्रम के साथ कंदस्वामी का फ़िल्मांकन जारी है।

निजी जीवन

परिवार

श्रिया सरन का जन्म हरिद्वार में हुआ था और उन्होंने अपना अधिकांश जीवन शिवालिक पर्वत श्रृंखला की तलहटी में एक छोटी-सी बस्ती में बिताया है। उनके पिता पुष्पेंद्र सरन, राज्य के स्वामित्व वाले भारत हेवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड के लिए काम करते थे, जबकि उनकी मां नीरजा सरन दिल्ली पब्लिक स्कूल में रसायन-विज्ञान की शिक्षिका थीं, जहां की श्रिया छात्रा रह चुकी हैं। उनके बड़े भाई अभिरूप सरन उनसे चार साल बड़े हैं और फ़िलहाल मुंबई में एक विज्ञापन कंपनी FCB उल्का में काम करते हैं। उनका विवाह आरती से हुआ है, जिनके साथ श्रिया अपने रिश्ते को “बहुत गहरा” मानती हैं।

श्रिया के अनुसार बचपन में उन्होंने “लंबे समय तक अपनी जेब खर्च संभाल कर रखी और उसे अंधों के स्कूल को दान में दिया.” जब श्रिया 17 वर्ष की थीं, उनका परिवार दिल्ली चला गया, क्योंकि वे प्रसिद्ध नृत्यांगना गुरु शोवना नारायण से कथक सीखने की इच्छुक थीं।

फ़िल्मोग्राफ़ी

वर्षफ़िल्मभूमिकाभाषाअन्य नोट
2001इष्टमनेहातेलुगू
2002संतोषमभानुतेलुगू
चेन्नकेशव रेड्डीप्रीतितेलुगू
नुव्वे नुव्वेअंजलितेलुगू
2003तुझे मेरी क़समगिरिजाहिन्दी
नीकू नेनु नाकू नुव्वुसीता लक्ष्मीतेलुगू
टैगोरदेवकीतेलुगू
एला चेप्पनुप्रियातेलुगू
एनक्कु 20 उनक्कु 18रेशमातमिल
2004नेनुन्नानुअनुतेलुगू
थोड़ा तुम बदलो थोड़ा हमरानीहिन्दी
अर्जुनरूपातेलुगू
शुक्रिया: टिल डेथ डू अस अपार्टसनमहिन्दी
2005बालू ABCDEFGअनुतेलुगू
ना अल्लुडुमेघनातेलुगू
सदा मी सेवलोकांतितेलुगू
सोग्गाडुश्रियातेलुगूछोटा किरदार
सुभाष चन्द्र बोसस्वराज्यमतेलुगू
मोगुडु पेल्लाम ओ दोंगाडुसत्यभामातेलुगू
मलैशैलजातमिल
छत्रपतिनीलूतेलुगूनामज़द, तेलुगू फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री पुरस्कार
भगीरथश्वेतातेलुगू
बोम्मलाटास्वातितेलुगूछोटा किरदार
2006देवदासुस्वयंतेलुगूविशेष उपस्थिति
खेलतेलुगूविशेष उपस्थिति
बॉससंजनातेलुगूविशेष उपस्थिति
तिरुविलयाडल आरंभमप्रियातमिल
2007मुन्नाबार में नर्तकीतेलुगूगाने में आइटम नंबर
अरसुअंकिताकन्नड़छोटा किरदार
शिवाजी: द बॉसतमिलसेल्वीतमिल
आवारापनआलियाहिन्दीनामज़द, फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ नवोदित नायिका पुरस्कार
तुलसीतेलुगूविशेष उपस्थिति
अलगिया तमिल मगनअभिनयातमिल
2008इंदिरलोगत्तिल ना अलगप्पनपिडारिअत्तातमिलविशेष उपस्थिति
मिशन इस्तानबुलअंजलि सागरहिन्दीविजेता, स्टारडस्ट बढ़िया नया चेहरा पुरस्कार
द अदर एंड ऑफ़ द लाइनप्रिया सेठीअंग्रेज़ी
2009एक – द पवर ऑफ़ वनप्रीतहिन्दी
दोरनइइंदुतमिल
कंदस्वामीसुब्बलक्ष्मीतमिल
कुकिंग विथ स्टेलातन्नुअंग्रेज़ी
कुट्टीगीतातमिलफिल्मांकन
जग्गुभाईतमिलफिल्मांकन
चिक्कु बुक्कुतमिलफिल्मांकन

इन्हें भी देखें

सन्दर्भ

  1.  “आज ही के दिन जन्मी थीं अभिनेत्री श्रेया सरन”. 11 सितम्बर 2015. मूल से 15 अगस्त 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 12 जुलाई 2016.

बाहरी कड़ियाँ

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *