खुशबू सुंदर

खुशबू सुंदर

Khushbu at the 60th Filmfare Awards South
जन्मनखत खान
29 सितम्बर 1970 (आयु 50)[1]
Mumbai, Maharashtra, India
आवासChennai
राष्ट्रीयताIndian
सक्रिय वर्ष1980–present
जीवनसाथीSundar C (m.1997–present), Prabhu (m. 1993–1994)
बच्चेAvantika, Anandita

खुशबू सुंदर, या सिर्फ खुशबू/खुशबू एक भारतीय फिल्म अभिनेत्री,[2] निर्माता और टेलीविजन प्रस्तोता हैं जिन्होंने 200 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।[3][4] वह मुख्य रूप से दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योग में अपने काम के लिए जाने जाते हैं।[5] उन्हें सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए पांच तमिलनाडु स्टेट फिल्म अवॉर्ड और एक केरल स्टेट फिल्म अवॉर्ड – स्पेशल मेन्शन मिला है।

व्यक्तिगत जीवन

खुशबू का जन्म 29 सितंबर 1970 को मुंबई, महाराष्ट्र, भारत में एक मुस्लिम परिवार में हुआ था।[1][6] उन्होंने 2000 में फिल्म अभिनेता, निर्देशक और निर्माता सुंदर सी से शादी की। उनकी दो बेटियां हैं, अवंतिका और आनंदिता, [4] जिसके बाद उन्होंने अपने प्रोडक्शन हाउस का नाम अवनी सिनेमैक्स रखा। वह 34 से अधिक वर्षों से चेन्नई में रह रही है। खुशबू खुद को नास्तिक मानती है।[7][8]

फिल्म कैरियर

बाल कलाकार

खुशाली ने “तेरी है ज़मीन तेरा आस्मान” गीत में हिन्दी फिल्म द बर्निंग ट्रेन (1980) में बाल कलाकार के रूप में अपना करियर शुरू किया। 1980-1985 के बीच एक बाल कलाकार के रूप में उन्होंने नसीबलावारिसकालियाबेमिसाल और अन्य जैसी हिन्दी फिल्मों में भूमिका निभाई।

बॉलीवुड

खुशबू ने सुपर हिट मेरी जंग (1985) में अनिल कपूर की बहन की महत्वपूर्ण सहायक भूमिका निभाई और जावेद जाफ़री के साथ सुपर-डुपर हिट गाना “बोल बेबी बो, रॉक रोल” में स्क्रीन पर अपनी पहली नृत्यांगना भूमिका में नृत्य किया।

खुशबू ने जानू (1985) में जैकी श्रॉफ के साथ उनकी पहली मुख्य भूमिका निभाई। गोविंदा के साथ उन्होंने तन बदन (1986) में अभिनय किया, जो गोविंदा के लिए पहली प्रमुख भूमिका थी।

खुशबू ने दीवाना मुझ सा नहीं (1990) में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जिसमें आमिर खान और माधुरी दीक्षित प्रमुख भूमिका में थे। उनका सोलो डांस नम्बर “सारे लड़कों की कर दो शादी” एक बड़ा हिट बना था और आज भी उत्तरी भारत में महिला संगीत और विवाह समारोहों में लोकप्रिय है। उसके बाद वह ज्यादातर दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योगों में काम कर रही थीं।

दक्षिण भारतीय फिल्मों

खुशबू को तेलुगू फिल्म कलियुगा पांडवुलु (1986) के माध्यम से वेंकटेश के साथ दक्षिण भारतीय स्क्रीन पर पेश किया गया। इसके बाद उन्होंने चेन्नई को अपना घर बनाया और तमिल और अन्य दक्षिण भारतीय फिल्म उद्योगों पर ध्यान केन्द्रित करना शुरू कर दिया। दक्षिण में जाने के बाद उन्होंने 150 से अधिक फिल्मों में अभिनय किया है।

इन्हें भी देखें

सन्दर्भ

  1. ↑ इस तक ऊपर जायें:अ  “Andheri to Akbar Road via Madras: The many turns of khusbu’s life”मूल से 22 नवंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 जुलाई 2020.
  2.  “नखत खान के नाम से ट्रोल करने की कोशिश पर अभिनेत्री खुशबू सुंदर ने दिया करारा जवाब”मूल से 6 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 दिसंबर 2017.
  3.  “संग्रहीत प्रति”. मूल से 28 दिसंबर 2015 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 17 जुलाई 2020.
  4.  https://www.indiatoday.in/movies/celebrities/story/hrithik-bare-body-actresses-bikini-south-conclave-2018-1149719-2018-01-19?utm_source=inshorts&utm_medium=referral&utm_campaign=fullarticle
  5.  “Actor-politician Khushbu Sundar silences trolls for ‘discovering’ she is Muslim – ’47 yrs late’!”. मूल से 5 दिसंबर 2017 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 5 दिसंबर 2017.
  6.  “Actor-politician Khushbu Sundar silences trolls for ‘discovering’ she is Muslim – ’47 yrs late’!”. मूल से 1 अप्रैल 2019 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 जुलाई 2020.
  7.  “Happy Birthday Kushboo: Star’s personal photos you may have missed”. मूल से 4 अक्तूबर 2016 को पुरालेखित. अभिगमन तिथि 19 जुलाई 2020.
  8.  “‘Yes, I’m Nakhat Khan’: Khushbu changes name on Twitter, slays trolls”.

बाहरी कड़ियाँ

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *