गिरीश कर्नाड

गिरीश कर्नाड
गिरीश कार्नाड कॉर्नेल विश्वविद्यालय में, 2009
जन्मगिरीश रघुनाथ कार्नाड
19 मई 1938
माथेरानब्रिटिश भारत (वर्तमान में महाराष्ट्रभारत)
मृत्यु(10 june 2019, Age=81 years)
बैंगलोर
व्यवसायनाटककारनिर्देशकअभिनेताकवि
राष्ट्रीयताभारतीय
उच्च शिक्षाऑक्सफ़र्ड विश्वविद्यालय
विधानाट्य साहित्य
साहित्यिक आन्दोलननव्या
उल्लेखनीय कार्यsतुग़लक 1964
तलेदंड (हिन्दी: रक्त कल्याण)

गिरीश कार्नाड ( १९३८-१० जून २०१९,माथेरान, महाराष्ट्रभारत के जाने माने समकालीन लेखक, अभिनेता, फ़िल्म निर्देशक और नाटककार थे। कन्नड़ और अंग्रेजी भाषा दोनों में इनकी लेखनी समानाधिकार से चलती थी। 1998 में ज्ञानपीठ सहित पद्मश्री व पद्मभूषण जैसे कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों के विजेता कर्नाड द्वारा रचित तुगलक, हयवदन, तलेदंड (रक्तकल्याण), नागमंडल व ययाति जैसे नाटक अत्यंत लोकप्रिय हुए और भारत की अनेक भाषाओं में इनका अनुवाद व मंचन हुआ है। प्रमुख भारतीय निर्देशकों – इब्राहीम अलकाजीप्रसन्नाअरविन्द गौड़ और ब॰ व॰ कारन्त ने इनका अलग- अलग तरीके से प्रभावी व यादगार निर्देशन किया हैं।

आरंभिक जीवन

एक कोंकणी भाषी परिवार में जन्में कार्नाड ने १९५८ में धारवाड़ स्थित कर्नाटक विश्वविद्यालय से स्नातक उपाधि ली। इसके पश्चात वे एक रोड्स स्कॉलर के रूप में इंग्लैंड चले गए जहां उन्होंने ऑक्सफोर्ड के लिंकॉन तथा मॅगडेलन महाविद्यालयों से दर्शनशास्त्र, राजनीतिशास्त्र तथा अर्थशास्त्र में स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त की। वे शिकागो विश्वविद्यालय के फुलब्राइट महाविद्यालय में विज़िटिंग प्रोफ़ेसर भी रहे।

कार्य

साहित्य

कार्नाड की प्रसिद्धि एक नाटककार के रूप में ज्यादा है। कन्नड़ भाषा में लिखे उनके नाटकों का अंग्रेजी समेत कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद हो चुका है। एक खास बात ये है कि उन्होंने लिखने के लिए ना तो अंग्रेज़ी को चुना, जिस भाषा में उन्होंने एक समय विश्वप्रसिद्ध होने के अरमान संजोए थे और ना ही अपनी मातृभाषा कोंकणी को। जिस समय उन्होंने कन्नड़ में लिखना शुरू किया उस समय कन्नड़ लेखकों पर पश्चिमी साहित्यिक पुनर्जागरण का गहरा प्रभाव था। लेखकों के बीच किसी ऐसी चीज के बारे में लिखने की होड़ थी जो स्थानीय लोगों के लिए बिल्कुल नई थी। इसी समय कार्नाड ने ऐतिहासिक तथा पौराणिक पात्रों से तत्कालीन व्यवस्था को दर्शाने का तरीका अपनाया तथा काफी लोकप्रिय हुए। उनके नाटक ययाति (1961, प्रथम नाटक) तथा तुग़लक़ (1964) ऐसे ही नाटकों का प्रतिनिधित्व करते हैं। तुगलक से कार्नाड को बहुत प्रसिद्धि मिली और इसका कई भारतीय भाषाओं में अनुवाद हुआ। इसी प्रकार ‘तलेदंड’ भी काफी लोकप्रिय हुआ। रानावि के पूर्व निर्देशक रामगोपाल बजाज द्वारा इसका हिन्दी अनुवाद रक्त कल्याण नाम से किया गया और रानावि के लिए इब्राहीम अलकाजी और फिर अस्मिता नाटय संस्था द्वारा अरविन्द गौड़ के निर्देशन में १९९५ से २००९ तक १५० से ज्यादा मंचन हुए।[1]

सिनेमा

वंशवृक्ष नामक कन्नड़ फ़िल्म से इन्होंने निर्देशन की दुनिया में कदम रखा। इसके बाद इन्होंने कई कन्नड़ तथा हिन्दी फ़िल्मों का निर्देशन तथा अभिनय भी किया।

प्रमुख फ़िल्में

प्रकाशित कृतियाँ

गिरीश कर्नाड के प्रमुख नाटकों की सूची हिन्दी अनुवाद एवं हिन्दी अनुवाद की प्रथम प्रस्तुति के विवरण[2] सहित इस प्रकार है:-

  1. ययाति (मूल कन्नड़ 1961), हिन्दी अनुवाद- बी आर नारायण, राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली से 1979 में प्रकाशित; प्रथम प्रस्तुति 1980, संगीत कला मंदिर, कोलकाता; निर्देशक- राजेंद्र कुमार शर्मा।
  2. तुगलक (मूल कन्नड़ 1964), हिन्दी अनुवाद- बी॰वी॰ कारंत, राधाकृष्ण प्रकाशन 1977; प्रकाशन-पूर्व प्रथम प्रस्तुति- राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय रंगमंडल, नई दिल्ली, 1966, निर्देशक- ओम शिवपुरी।
  3. हयवदन (मूल कन्नड़ 1971), हिन्दी अनुवाद- बी॰वी॰ कारंत, राधाकृष्ण प्रकाशन 1977; प्रकाशन-पूर्व प्रथम प्रस्तुति- 1972, देशांतर, नई दिल्ली, निर्देशक- बी॰वी॰ कारंत।
  4. अंजुमल्लिगे (मूल कन्नड़ 1977)
  5. बलि (मूल कन्नड़ हिन्ननहुंज, रचना- 1962; संशोधित रूप- 1980), प्रथम हिन्दी अनुवाद- बी॰वी॰ कारंत, ‘आटे का कुक्कुट’ नाम से; अप्रकाशित रूप का प्रथम मंचन- 1966, राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय, निर्देशक- बी॰वी॰ कारंत एवं प्रेमा कारंत; द्वितीय अनुवादक- सत्यदेव दुबे, ‘बलि’ नाम से, अप्रकाशित रूप का मंचन- 1985, निर्देशक- सत्यदेव दुबे; प्रकाशित रूप के अनुवादक- राम गोपाल बजाज, राधाकृष्ण प्रकाशन 2015.
  6. नागमंडल (मूल कन्नड़ 1988), हिन्दी अनुवाद- बी आर नारायण, भारतीय ज्ञानपीठ, नई दिल्ली 1991; प्रथम प्रस्तुति- 1991, अभियान, नई दिल्ली, निर्देशक- राजिन्दर नाथ।
  7. रक्त कल्याण (मूल कन्नड़ तलेदण्ड 1990), हिन्दी अनुवाद- रामगोपाल बजाज; प्रकाशन-पूर्व प्रथम प्रस्तुति- राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय रंगमंडल 1993, निर्देशक- इब्राहिम अल्काजी; पुनः संशोधित रूप राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली से सन् 1994 में प्रकाशित।[3]
  8. अग्नि और बरखा (मूल कन्नड़ अग्नि मत्तु मले 1994), हिन्दी अनुवाद- रामगोपाल बजाज, राधाकृष्ण प्रकाशन 2001; प्रकाशन-पूर्व प्रथम प्रस्तुति- राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय रंगमंडल, नई दिल्ली 1996, निर्देशक- प्रसन्ना।
  9. टीपू सुल्तान के ख़्वाब (मूल कन्नड़ टीपू सुल्तान कंडा कनसु), हिन्दी अनुवाद- ज़फ़र मुहीउद्दीन, राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली 2018; प्रकाशन-पूर्व प्रथम प्रस्तुति जुलाई 2017, ‘कठपुतलियाँ थिएटर ग्रुप’, बेंगलुरु, निर्देशक- ज़फर मोहिउद्दीन।[4]
  10. शादी का एल्बम (मूल कन्नड़ मदुवे एल्बम 2006), हिन्दी अनुवाद- पद्मावती राव, राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली 2017।
  11. बिखरे बिम्ब (मूल कन्नड़ ओडकलु बिम्ब 2006), हिन्दी अनुवाद- पद्मावती राव, एक अन्य नाटक ‘पुष्प’ सहित बिखरे बिम्ब और पुष्प [दो एकल नाटक] नाम से राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली से सन् 2017 में प्रकाशित।
  12. पुष्प (मूल कन्नड़ फ्लावर्स 2012), बिखरे बिम्ब और पुष्प [दो एकल नाटक] में संकलित। हिन्दी अनुवाद- पद्मावती राव।

पुरस्कार तथा उपाधियाँ

साहित्य के लिए

सिनेमा के क्षेत्र में

हस्ताक्षर

सन्दर्भ

  1.  “गिरीश कार्नाड के नाटक रक्त कल्याण (Taledanda), की समीक्षाएं”. मूल से ९ फ़रवरी २०१५ को पुरालेखित. अभिगमन तिथि २० दिसंबर २००८.
  2.  भारतीय रंगकोश, संदर्भ : हिन्दी, खंड-2, (रंग व्यक्तित्व), संपादक- प्रतिभा अग्रवाल, राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय, बहावलपुर हाउस, नई दिल्ली, वितरक- राजकमल प्रकाशन, नई दिल्ली, प्रथम संस्करण-2006, पृष्ठ-69-71.
  3.  रक्त कल्याण, गिरीश कारनाड, अनुवाद- रामगोपाल बजाज, राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली, सातवाँ संस्करण-2015, पृष्ठ-10.
  4.  गिरीश कारनाड, टीपू सुल्तान के ख़्वाब, राधाकृष्ण प्रकाशन, नई दिल्ली, प्रथम संस्करण-2018, पृष्ठ-5-6.
[छुपाएँ]देवासं    १९९२ में पद्म भूषण धारक    
उद्योग हंसमुख ठाकुरदास पारेख  • कला कदूर वेंकटलक्षमण  • टी एन कृष्णन  • चिंतामन रघुनाथ व्यास  • देवव्रत चौधरी  • हरिप्रसाद चौरसिया  • आदुसुमल्ली राधाकृष्णन  • गिरीश कर्नाड  • कोंगर जगैया  • नौशाद अली वाहिद अली  • तलत मंजूर अहमद  • बैरप्पा सरोजा देवी श्री हर्षा  • मृणालिनी साराभाई  • सोनल मानसिंह  • चिकित्सा गुरुशरणप्रसाद तलवार  • रामचंद्र दत्तात्रेय लेले  • थायिल जॉन चेरियन  • हकीम अब्दुल हमीद  • वैद्य बृहस्पतिदेव त्रिगुण  • प्रशा० वीरेंद्र दयाल  • विज्ञान खेमसिंह गिल  • कृष्णास्वामी कस्तूरीरंगन  • रंजन रॉय डेनियल  • त्रिलोकीनाथ खोशू  • समाज किसन बापट बाबूराव हजारे  • मंबलिकलातिल शारदा मेनन  • उपक्रम बिजॉय चंद्र भगवती  • वैविलाला गोपालकृष्णैया  • साहित्य चिंजिरेड्डी नारायण रेड्डी  • दलसुख दह्याभाई मलवानिया  • सेतु माधव राव पगड़ी  • सैयद अब्दुल मलिक  • अन्य गोरो कोयमा  •
[छुपाएँ]देवासंज्ञानपीठ पुरस्कार
१९६५ – १९८०गोविन्द शंकर कुरुप (१९६५)ताराशंकर बंधोपाध्याय (१९६६)कुप्पाली वी गौड़ा पुटप्पाउमाशंकर जोशी (१९६७)सुमित्रानंदन पंत (१९६८)फ़िराक़ गोरखपुरी (१९६९)विश्वनाथ सत्यनारायण (१९७०)विष्णु डे (१९७१)रामधारी सिंह ‘दिनकर’ (१९७२)दत्तात्रेय रामचंद्र बेन्द्रेगोपीनाथ मोहंती (१९७३)विष्णु सखाराम खांडेकर (१९७४)पी॰ वी॰ अकिलानंदम (१९७५)आशापूर्णा देवी (१९७६)कोटा शिवराम कारन्त (१९७७)सच्चिदानंद वात्स्यायन (१९७८)वीरेन्द्र कुमार भट्टाचार्य (१९७९)एस. के. पोट्टेक्काट (१९८०)
१९८१ – २०००अमृता प्रीतम (१९८१)महादेवी वर्मा (१९८२)मस्ती वेंकटेश अयंगार (१९८३)तकाजी शिवशंकरा पिल्लै (१९८४)पन्नालाल पटेल (१९८५)सच्चिदानंद राउतराय (१९८६)विष्णु वामन शिरवाडकर कुसुमाग्रज (१९८७)सी॰ नारायण रेड्डी (१९८८)कुर्अतुल ऐन हैदर (१९८९)विनायक कृष्ण गोकाक (१९९०)सुभाष मुखोपाध्याय (१९९१)नरेश मेहता (१९९२)सीताकांत महापात्र (१९९३)उडुपी राजगोपालाचार्य अनंतमूर्ति (१९९४)एम॰ टी॰ वासुदेव नायर (१९९५)महाश्वेता देवी (१९९६)अली सरदार जाफरी (१९९७)गिरीश कर्नाड (१९९८)गुरदयाल सिंहनिर्मल वर्मा (१९९९)इंदिरा रायसम गोस्वामी (२०००)
२००१ – वर्तमानराजेन्द्र शाह (२००१)दण्डपाणि जयकान्तन (२००२)गोविन्द विनायक करंदीकर (२००३)रहमान राही (२००४)कुँवर नारायण (२००५)रवीन्द्र केलकरसत्यव्रत शास्त्री (२००६)ओ॰ ऍन॰ वी॰ कुरुप (२००७)अख़लाक़ मुहम्मद ख़ान ‘शहरयार’ (२००८)अमर कान्तश्रीलाल शुक्ल (२००९)चन्द्रशेखर कम्बार (२०१०)प्रतिभा राय (२०११)रावुरी भारद्वाज (२०१२)केदारनाथ सिंह (२०१३)भालचंद्र नेमाडे (२०१४)रघुवीर चौधरी (२०१५)शंख घोष (२०१६)कृष्णा सोबती (२०१७)अमिताभ घोष (२०१८)
[छुपाएँ]देवासंभारतीय रंगकर्मी
गिरीश कर्नाड • ह्बीब तनवीर • इब्राहीम अलकाजी • बी.वी. कारंत • अरविन्द गौड़ • नादिरा बब्बर • सत्यदेव दुबे • राम गोपाल बजाज • मल्लिका साराभाई • स्वदेश दीपक • सफ़दर हाशमी • महेश दत्ताणी • प्रसन्ना • गोविंद पुरुषोत्तम देशपांडे • विजय तेंडुलकर • नाग बोडस • प्रिया तेंडुलकर • रतन थियम • जे. एन. कौशल • राजेश कुमार • दिनेश ठाकुर

श्रेणियाँ

Leave a Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *