Industrial policy before 1991

1991 से पहले की औद्योगिक नीतियां औद्योगिक नीति (Industrial policy) किसी भी देश के औद्योगिक संतुलित विकास के लिए एक स्पष्ट और व्यापक औद्योगिक नीति की आवश्यकता होती है|भारत में भी स्वतंत्रता के बाद से लेकर अब तक की औद्योगिक नीतियों की घोषणा की गई है यह निम्नलिखित है – औद्योगिक नीति 1948 (Industrial policy 1948) […]

major political parties of different countries

विभिन्न देशों के प्रमुख राजनीतिक दल चीन  –  कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना श्रीलंका  –  यूनाइटेड नेशनल पार्टी, फ्रीडम पार्टी दक्षिण अफ्रीका  –  अफ्रीका नेशनल कांग्रेस, नेशनल पार्टी, इन्काथा फ्रीडम पार्टी यूनाइटेड किंगडम  –  कंजर्वेटिव पार्टी, लेवर पार्टी, लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी रूस  –  लिबरल डेमोक्रेटिक पार्टी, रशाज चॉयस, कम्यूनिस्ट पार्टी भारत  –  भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, भारतीय जनता […]

constitution day

संविधान दिवस कब मनाया जाता है ? संविधान दिवस (26 नवम्बर) भारत गणराज्य का संविधान 26 नवम्बर 1949 को बनकर तैयार हुआ था। संविधान सभा के निर्मात्री समिति के अध्यक्ष डॉ॰ भीमराव आंबेडकर के 125वें जयंती वर्ष के रूप में 26 नवम्बर 2015 को संविधान दिवस मनाया गया। डॉ॰ भीमराव आंबेडकर जी ने भारत के महान संविधान को 2 वर्ष 11 माह […]

list of chief justice of india

भारत के मुख्य न्यायाधीशों की लिस्ट (वर्ष 1950 से अब तक) नाम अवधि अदालत नियुक्ति 1 दीपक मिश्रा 28 अगस्त 2017 से अब तक दिल्ली उच्च न्यायालय रामनाथ कोविंद 2 जगदीश सिंह खेहर 04 जनवरी 2017 से 27 अगस्त 2017 कर्नाटक उच्च न्यायालय रामनाथ कोविंद 3 तीरथ सिंह ठाकुर 03 दिसम्बर 2015 से 03 जनवरी […]

Article 35A

क्या है अनुच्छेद 35A (What is Article 35A) जम्मू-कश्मीर की विधान सभा को स्थाई नागरिक की परिभाषा तय करने का अधिकार देता है, जिसे कि राज्य में 14 मई 1954 को लागू किया गया था। यह अनुच्छेद संविधान की किताबों में देखने को नहीं मिलता है। दरअसल धारा 35A इस अनुच्छेद को लागू करने के लिए तत्कालीन सरकार ने धारा 370 के अंतर्गत प्राप्त शक्ति […]

Section 377

धारा 377 के बारे में सम्पूर्ण महत्वपूर्ण जानकारी (All important information about Section 377) धारा 377 में क्या है ? (What is Section 377?) धारा 377 की शुरुआत लॉर्ड मेकाले ने 1861 में की थी | इसके तहत समलैंगिकता अपराध की श्रेणी में था | धारा-377 भारत में अंग्रेजों ने 1862 में लागू किया था | […]

republic day in India

गणतन्त्र दिवस क्यों मनाया जाता है ? 26 जनवरी को ही क्यों मनाते हैं ? हर भारतवासी के लिए 26 जनवरी का दिन बेहद महत्वपूर्ण है। हर वर्ष बड़े उत्साह के साथ इस दिन को मनाते हैं | इसे गणतंत्र दिवस के तौर मनाया जाता है। यह भारत का एक राष्ट्रीय पर्व है। क्यों मनाया जाता है […]

name of India

भारत, इंडिया या हिन्दुस्तान ? कैसे पड़े ये नाम ? आपके मन में अवश्य ही ये विचार आता होगा कि हमारे देश के 3 नाम क्योंं हैं और ये कैसे पड़े? वैसे संविधान में लिखा है “इंडिया जो कि भारत है वह राज्यों का संघ होगा” मतलब संविधान में हमारे देश का नाम भारत ही है, अब चलिये आपको […]

Beating the Retreat Ceremony

बिटिंग द रिट्रीट क्या होता हैं ? What is Beating the Retreat Ceremony in Hindi ‘बीटिंग द रिट्रीट’ भारत में गणतंत्र दिवस के अवसर पर हुए आयोजनों का आधिकारिक रूप से समापन की घोषणा है। हर वर्ष 29 जनवरी की शाम को अर्थात गणतंत्र दिवस के तीसरे दिन बीटिंग द रिट्रीट का आयोजन किया जाता है, इसके लिए 26 से 29 जनवरी के बीच […]

article 370

क्या थी धारा 370? यह धारा संविधान के 21वें भाग में समाविष्ट है जिसका शीर्षक है- ‘अस्थायी, परिवर्तनीय और विशेष प्रावधान’ (Temporary, Transitional and Special Provisions)। भारतीय संविधान का अनुच्छेद 370 एक ऐसा लेख था जो जम्मू और कश्मीर को स्वायत्तता का दर्जा देता था। संविधान के भाग XXI में लेख का मसौदा तैयार किया […]